Web Hosting Kya Hai 2021

0
105
Web Hosting Kya Hai
Web Hosting Kya Hai

Web Hosting Kya Hai 2021 : Web Hosting Kya Hai? What Is Web Hosting In Hindi? दोस्तों अगर आप एक Blogger, Website Owner, Web Developer हो तो आपको web hosting के बारे तो ज़रूर पता होगा, लेकिन अगर आप एक Beginner हो और वेब होस्टिंग के बारे में डिटेल से जानना चाहते हो तो आज इस पोस्ट में हम जानिंगे की वेब होस्टिंग क्या है? Web Server क्या होता है? उपयोग, फ़ायदे, प्रकार क्या है? क्यू ज़रूरी है? कैसे काम करता है? कैसे ख़रीदे? & All About Web Hosting In Hindi?

दोस्तों क्या आप भी अपना ब्लॉग या वेबसाइट बनाने के बारे में सोच रहे हैं.तो यहां पर वेबसाइट बनाने से पूर्व मैं आपको बता दूँ की एक शब्द जो कि वेब होस्टिंग है आपको Blog बनाते समय जरूर सुनाई देगा.खासकर यदि आप एक प्रोफेसनल ब्लॉग अर्थात WordPress पर अपना ब्लॉग बनाने जा रहे हैं तो.

इसलिए आपको Web Hosting के बारे में पूर्ण एवं महत्वपूर्ण Information होना बेहद आवश्यक है.इसलिए मैंने सोचा क्यों न आज का यह लेख उन सभी भावी Bloggers के लिए बनाया जाए जो अपनी Website या ब्लॉग बनाना चाहते हैं.

दोस्तों यदि आप आज या भविष्य में अपनी वेबसाइट या ब्लॉग बनाना चाहते हैं.तो आपको आज के इस लेख में बताया जाएगा कि वेब होस्टिंग क्या होती है? (What Is Web Hosting In Hindi) यह क्यों जरूरी होती है,वेब होस्टिंग के कितने प्रकार होते हैं? Windows तथा linux होस्टिंग क्या होती है? और आप की साइट के लिए कौन सी Hosting best रहेगी.

वेब होस्टिंग से संबंधित पूर्ण एवं सटीक Information प्राप्त करने के लिए आज की इस लेख को अंत तक जरूर पढ़े.चलिये दोस्तों बिना Time गवाएं हम जानते हैं कि वेब होस्टिंग क्या है? – What Is Web Hosting In Hindi

Web Hosting Kya Hai

Web Hosting Kya Hai
Web Hosting Kya Hai

Web Hosting एक सेवा है जो किसी संस्था या व्यक्ति कोइंटरनेट पर अपनी वेबसाइट प्रकाशित करने की अनुमति देती है. यदि आप इंटरनेट पर अपनी Website बनाना चाहते हैं तो यहां पर आपको दो चीजें जरूरी होती है पहला Domain Name दूसरा Web Hosting और आपको डोमेन नेम तथा वह hosting दोनों चीज़े खरीदनी पड़ती है.जिसके बाद आपकी Websites इंटरनेट पर live होती है.

दोस्तों इसके साथ ही आपका जानना जरूरी है की आप फ्री में भी डोमेन नेम तथा वेब होस्टिंग खरीद सकते हैं. डोमेन नेम तथा वेब होस्टिंग खरीदने के बाद DNS सर्वर अपडेट करने पड़ते हैं जिसके बाद आपकी साइट इंटरनेट पर live हो जाती है.अब कोई भी यूजर आपकी Website को देख सकता है.

दोस्तों अगर यदि हम वेब होस्टिंग को सरल शब्दों में समझें तो Web hosting एक संस्था (ऑर्गेनाइजेशन) होती है जो मेमोरी स्पेस को बेचती है या किराए पर देती है. इसे उदाहरण के तौर पर समझे तो जैसे हम किसी साइबर कैफे पर 1 घंटे कंप्यूटर एक्सेस करने के लिए के कुछ पैसे देते हैं उसी तरह आप की वेबसाइट में जो डाटा जैसे कि आर्टिकल, forms आदि कई चीज़े होती है. उसे स्टोर करने के लिए एक hosting की जरूरत पड़ती है अर्थात Computer की जरूरत पड़ती है.

दोस्तों इसे एक उदाहरण के तौर पर समझते हैं जिस तरह की आपके Smartphone में रैम, रोम, मेमोरी, प्रोसेसर आदि फीचर उपलब्ध होते हैं. ठीक उसी तरह Website के लिए भी एककंप्यूटर सर्वर होता है जिसमें Website के लिए प्रोसेसर, Ram, storage स्टोरेज मिलती है जिसे होस्टिंग कहाँ जाता है! होस्टिंग में देखा जाता है कि आपको कितनी Ram, प्रोसेसर बैंडविथ मिलती है

इसलिए आपको अपनी वेबसाइट का डाटा स्टोर करने के लिए एक Computer किराए पर लेना पड़ता है जिसमें आपका डाटा स्टोर रहता है तथा यह कंप्यूटर 24 घण्टे on रहता है. जिससे कभी भी कोई यूजर आपकी वेबसाइट पर visir कर सके.दोस्तों यदि हम अपनी Futuretricks वेबसाइट की Web Hosting की बात करें तो हमने होस्टिंग खरीद रखी है तभी आप हमारी वेबसाइट को 24 घंटे कभी भी एक्सेस कर तकनीकी जानकारियां पढ़ सकते हैं.

दोस्तों Web होस्टिंग खरीदने के लिए कुछ प्रसिद्ध वेबसाइट के नाम निम्नलिखित हैं.

  1. Digital Ocean
  2. InMotion
  3. Bluehost
  4. HostGator 
  5. Hostinger
  6. GoDaddy 
  7. Tsohost 
  8. Wix 
  9. SiteGround.

इसके अलावा कुछ site हैं जहां से आप वेब होस्टिंग मुफ्त में खरीद सकते हैं.लेकिन यदि आपको इंटरनेट पर अपना प्रोफेशनल ब्लॉग या Website बनानी है तो सलाह दी जाती है कि आप paid होस्टिंग खरीदें. क्योंकि Paid होस्टिंग खरीदने के बाद आप Hosting पर पूरा एक्सेस होता है आप कभी भी अपने होस्टिंग प्रोवाइडर से कांटेक्ट कर सकते हैं, और अपने होस्टिंग को अपग्रेड कर सकते हैं.और सामान्य सी बात है जिस होस्टिंग पर पैसे खर्च किये हैं वहाँ आपको अधिक वैल्यू मिलेगी.

वेब होस्टिंग क्यों ज़रूरी है?

दोस्तों आइए जानते हैं कि Web Hosting क्यों जरूरी होती हैदो स्तो आपका जानना जरूरी है कि यह जो होस्टिंग के लिए हमें Storage, मेमोरी आदि फीचर्स मिलते हैं. उसका क्या काम होता है? मान लीजिए आपके स्मार्टफोन में केवल 1GB रैम है तो यहां पर आप अधिक एप्लीकेशन नहीं चला सकते और आपकामोबाइल हैंग हो जाएगा.

दूसरी ओर यदि आपके पास 4GB स्मार्टफोन है तो आप यहां पर कई सारी एप्लीकेशन चला सकते हैं.ठीक उसी प्रकार यदि हम Website की बात करें तो यदि आपकी Website Shared होस्टिंग अर्थात सस्ती होस्टिंग है तो जब आप की वेबसाइट पर अधिक ट्रैफिक आता है. मतलब कई सारे Visitors आपकी साइट पर आते हैं तो Shared होस्टिंग उसको संभाल नहीं पाती है.

जिससे आपकी website कभी-कभी बंद हो जाती है! 404 error आ जाता है अब ऐसी स्थिति किसी भी Website मालिक के लिए सही नहीं है.इसलिए आपकी Website 24 घंटे लगातार इंटरनेट पर लाइव बनी रहे इसलिए सही web होस्टिंग का चुनाव करना बेहद जरूरी है.

Wev Hosting कैसे काम करती है? 

Wev Hosting कंपनियां अपने यूजर्स को अपनी सेवाएं किराए पर देती हैं ताकि वे अपनी वेबसाइट को इंटरनेट पर लाइव कर सके.

Hosting कंपनी आपकी वेबसाइट को Host करती है अर्थात आप के वेबसाइट डाटा को स्टोर करने का कार्य करती है. अतः जब आपकी साइट इंटरनेट पर लाइव हो जाती है तो जब कोई यूज़र आपकी Websites का Address Search bar पर टाइप करता है.तो वह डिवाइस उस सर्वर से कनेक्ट हो जाता है. जहां आपकी Website होस्ट की जाती है.

और आपकी Website पर जो डाटा उपलब्ध है उसको यूजर को show किया जाता है. futuretricks ब्लॉग की बात करें तो इसमें कहीं सारा डाटा है जिसमें हमने इंटरनेट ट्रिक्स की जानकारियों को save किया हुआ है. तथा जवाब आप futuretricks search करते हैं तो आपका यह सभी डाटा वेब होस्टिंग कंपनी द्वारा show कर दिया जाता है.

दोस्तों अब हम जान लेते हैं कि वेब होस्टिंग कितने प्रकार की होती है? इसे जानने के बाद आप समझ सकते हैं कि आपकी Website के लिए कौन सी web होस्टिंग बेहतर रहेगी!

Web Hosting के प्रकार 

दोस्तों यदि आप एक Beginner हैं मतलब आप अपनी Website बनाने की शुरुवात कर रहे हैं तो यहां पर आपको Shared होस्टिंग लेनी चाहिए.

Shared होस्टिंग में आपकी वेबसाइट अन्य दूसरी Website की तरह Share Server में स्टोर की जाती है! मतलब उस सर्वर पर सैकड़ों या हजारों Website पहले से Store हो सकती हैं!

तथा shared hosting में इन सभी वेबसाइट को same फीचर्स दिए जाते हैं.जैसे कि Ram, CPU को सभी domains के बीच समान रूप से वितरित किया जाता है.अतः shared hosting का दाम आमतौर पर सबसे कम होता है.

Linux vs Windows Hosting

Linux Hosting

  •  लिनक्स होस्टिंग फ्लैक्सिबल होती है.
  • इसके अलावा यह फ्री ओपन सोर्स होती है.
  • लिनक्स होस्टिंग पर्सनल वेबसाइट ब्लॉग बनाने तथा छोटे बिजनेसे में इस्तेमाल के लिए सबसे बेस्ट मानी जाती है.

Windows Hosting

  •  यदि हम windows hosting की बात करें तो ना तो विंडोज होस्टिंग फ्लैक्सिबल होती है और इसकी कीमत भी अधिक होती है.
  •  इसका इस्तेमाल करने के लिए लाइसेंस की आवश्यकता होती है.
  • .इसका इस्तेमाल अधिकतर My SQL net आदि windows की specific टेक्नोलॉजी के लिए किया जाता है तो दोस्तों निष्कर्ष यह निकलता है कि यदि आप अपना पर्सनल ब्लॉग या Website बनाना जा रहे हैं तो आपको linux होस्टिंग का उपओगे करना चाहिए.

VPS Hosting

Vps की Full फॉर्म वर्चुअल प्राइवेट सर्वर है. shared होस्टिंग के मुक़ाबले vps होस्टिंग बेहतर होती है. तथा Shared होस्टिंग की तुलना में vps होस्टिंग में अधिक फ़ीचर्स तथा इसका दाम भी अधिक होता है.यह अत्यंत secure होस्टिंग होती है. जिसे आपको किसी दूसरी Website के साथ share करने की आवश्यकता नही पड़ती जिस वजह से आपकी साइट की लोडिंग Speed काफी फ़ास्ट होती है.

अतः यदि आपको कम दाम में अपनी वेबसाइट के लिए dedicated सर्वर जैसी स्पीड चाहिए तो आप vps होस्टिंग का उपओगे कर सकते हैं.

Dedicated Hosting

डेडीकेटेड होस्टिंग की कीमत अन्य hostings के मुकाबले सबसे अधिक होती है. क्योंकि डेडीकेटेड होस्टिंग में आपके Server का पूरा कंट्रोल केवल आपके पास होता है.

डेडीकेटेड Hosting में जो सर्वर होता है. वह केवल एक अर्थात single वेबसाइट का डाटा स्टोर करके रखता है! जिस वजह से इसकी स्पीड अत्यंत फास्ट होती है! इस तरह की होस्टिंग का इस्तेमाल ज्यादातर बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी जैसे कि Flipkart,Amazon आदि करती है.क्यों कि इन sites पर ढेर सारे visitors आते हैं! और उस ट्रैफिक को संभालने के लिए बढ़िया सर्विस की आवश्यकता होती है जो कि डेडीकेटेड सर्वर उपलब्ध करता है.

Cloud Web Hosting

Cloud वेब होस्टिंग में समूहबद्ध (इक्कट्ठे ) servers का इस्तेमाल होता है. इसका मतलब है कि आप की वेबसाइट विभिन्न Servers के वर्चुअल रिसोर्सेज (संसाधनों) का उपयोग करती है. तथा इस Server में Store वेबसाइट की लोडिंग स्पीड काफी होती है.

Fast होने की साथ ही वेबसाइट के high-ट्रेफिक को क्लाउड होस्टिंग सरलतापूर्वक संभाल सकती है! तथा cloud वेब होस्टिंग में सर्वर के down होने के भी अवसर कम होते हैं.क्योंकि यह cloud पर आधारित hosting होती है.

Free VS Paid होस्टिंग कौन सही है?

दोस्तों जैसा कि आप जानते होंगे Blogger गूगल का एक फ्री ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है! जहां पर हम अपना ब्लॉग फ्री में create कर सकते हैं, पोस्ट पब्लिश कर सकते हैं और इसके लिए नहीं हमें कोई Hosting खरीदने की भी जरूरत नहीं पड़ती! दूसरी तरफ WordPress platform में भी कुछ ऐसी कंपनियां हैं, जो अपने ग्राहकों को free Hosting की सुविधा देती हैं तो ऐसे में आपके मन में आ सकता है फ्री या फिर paid कौन सी होस्टिंग सही रहेगी.

जब आप Free वेब होस्टिंग का उपयोग करते हैं! तो उस Web होस्टिंग कंपनी द्वारा आपके Unique डोमेन नेम के साथ subdomain को Add कर दिया जाता है.example के लिए ब्लॉगर में आपके Blog के साथ blogspot subdomain को Add कर दिया जाता है.जिससे आपका डोमेन नेम प्रोफेशनल नहीं लगता! परंतु यह समस्या आपको paid वेब होस्टिंग में नहीं मिलेगी.

Speed

Free VS paid वेब होस्टिंग किसी भी कंपनी का इस्तेमाल अपने ब्लॉग या वर्डप्रेस ब्लॉग में करते हैं, तो आपको एक बड़ा अंतर दिखेगा Speed का.

कंपनी द्वारा आपको लिमिटेड Speed देखने को मिलेगी, लेकिन यदि आप Paid वेब होस्टिंग में पैसा खर्च करते हैं! तो आप अपने मन मुताबिक स्पीड ऑप्टिमाइज़ कर सकते हैं.Site को फास्ट लोड कर विजिटर्स एवं सर्च इंजन के लिए  अधिक सुविधाजनक बना सकते हैं.

Customer Support

Blog Setup करते समय कई बार होस्टिंग से रिलेटेड समस्याएं आ ही जाती हैं. ऐसे में यदि आप Free वेब होस्टिंग का चुनाव करते हैं तो आपको एक Support पेज मिलता है जहां पर आपके सभी सवालों के जवाब उसी पेज पर दिए गए होते हैं और कोई टेक्निकल सपोर्ट नहीं मिलता. लेकिन यदि आप एक Paid होस्टिंग खरीदते हैं तो आपको live चैट या कॉलिंग की सुविधा दी जाती है जिससे आप Hosting issue से संबंधित प्रत्येक सवाल पूछ सकते हैं.

More Features

Paid वेब होस्टिंग लेने के बाद कंपनी द्वारा आपको कई स्पेशल फीचर्स Blog वेबसाइट में दिए जाते हैं. जैसे कि डाटा बैकअप, SSL सर्टिफिकेट इत्यादि जबकि फ्री वेब होस्टिंग में यह फंक्शन लिमिटेड होते हैं.आप अपने वर्डप्रेस ब्लॉग को इच्छानुसार कस्टमाइज कर सकते हैं लेकिन ब्लॉगर में ऐसे फीचर्स नहीं मिलते.

दोस्तों संक्षेप में देखे तो जहां पर आप पैसा खर्च करेंगे वहां आपको वैल्यू मिलेगी.

Advertisement

फ्री वेब होस्टिंग में एक कमी होती है कि इसमें कई सारे एडवर्टाइजमेंट, बैनर एक वेबसाइट पर देखने को मिलते हैं. जिनसे कंपनी की कमाई होती है लेकिन यह आपके लिए यूजर फ्रेंडली नहीं होता लेकिन जब आप Paid वेब होस्टिंग खरीदते हैं तो ऐसी कोई दिक्कत नहीं होती.

साथियों अब आप इन पॉइंट्स को पढ़ने के बाद जान चुके होंगे कि आपके लिए paid होस्टिंग सही रहेगी या फिर Free.

वेब होस्टिंग ख़रीदने से पहेले ध्यान रखे यह बातें;

दोस्तों अब आप भी जान चुके होंगे वेब होस्टिंग कैसे खरीदें? Web Hosting प्लान कैसेर चुने? अब यहां आपको कुछ बातों को ध्यान में रखना बेहद जरूरी है.

Bandwidth

Website होस्टिंग की बैंडविथ को हम एक मेजरमेंट टूल भी कह सकते हैं.जो यह पता करने में सक्षम होता है कि एक सेकंड में कितना डाटा आपकी Website यूजर्स तक पहुंचा सकती है.

अतः यदि आपके होस्टिंग प्लान में बैंडविथ कम दे रखी है.और आपके Website पर ट्रैफिक ज्यादा आता है तो ऐसे में आपकी Website स्पीड पर भी फर्क पड़ेगा और वेबसाइट डाउन भी हो सकती है.

अतः वेब होस्टिंग लेने से पूर्व यह जरूर चेक करें की आपको होस्टिंग प्लान में कितनी बैंडविथ मिल रही है. होस्टिंग प्लान में आपको 1GB से लेकर 1000 जीबी तक की बैंडविथ मिल जाती है, जबकि कुछ hosting कंपनियां plans के हिसाब से अनलिमिटेड बैंडविथ की सुविधा भी देती हैं.

Diskspace

डिस्क स्पेस का सीधा अर्थ storage से है जिस प्रकार आपके कंप्यूटर में 500GB  से लेकर 1tb हार्ड डिस्क होती है.ठीक उसी तरह hosting प्रोवाइडर कंपनी द्वारा आपको आपके प्लान के हिसाब से disk स्पेस दिया जाता है किसी प्लान में आपको 100gb का storage मिलता है तो आप शुरुआत में 100 जीबी से काम चला सकते हैं.क्योंकि वेबसाइट में डाटा कम होता है लेकिन Website में इंफॉर्मेशन स्टोर करने के लिए आप अपने storage को बढ़ा कर 1tb तक कर सकते हैं यदि आप चाहते हैं diskspace कम न हो.

Uptime

इंटरनेट पर आपकी Website जितने समय तक लाइव रहती है उसे अब टाइम कहते हैं  अभिनव सिंह कंपनियां दावा करती हैं कि वे 99.99% का टाइम प्रोवाइड करती हैं अर्थात 24 घंटे आपकी साइट डाउन रहेगी और काफी कम चैन से सोते हैं कि आपकी वेबसाइट इंटरनेट पर कभी बंद हो.आप भी ऐसी होस्टिंग कंपनी का प्लान में जहां पर ऑफलाइन 99.9% हो.

Customer Service

बात हो बेहतरीन Hosting लेने की तो ऐसे में अच्छा कस्टमर सपोर्ट उस कंपनी का होना चाहिए.जैसे कि आप समस्या होने पर उस कंपनी से call पर या लाइव चैट के जरिए आसानी से कांटेक्ट कर सके! कई ऐसी होस्टिंग कंपनियां होती है जो 24 घंटे कस्टमर सपोर्ट देती है.

वेब होस्टिंग कहां से खरीदें?

दोस्तों वेब होस्टिंग खरीदने के लिए कई सारी कंपनियां इस समय इंटरनेट पर मौजूद है. लेकिन हम यहां कुछ पॉपुलर एवं विश्वसनीय कंपनी आपको suggest करेंगे जिन्हें इंडिया में कई सारे ब्लॉगर्स तथा Website owners आज उपओगे करते हैं.

आप इनकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर विभिन्न वेब होस्टिंग को चेक कर सकते हैं, साथ ही विभिन्न कंपनियों के प्लांस को Compare भी कर सकते हैं और उसके बाद अपने लिए एक बेस्ट वेब होस्टिंग प्लान ले सकते हैं.

Top 6 Web Hosting Company in India

  • Hostinger.
  • SiteGround.
  • A2 Hosting
  • Bluehost
  • HostGator
  • BigRock.

दोस्तों अब आप जान चुके हैं top वेब होस्टिंग कंपनी के बारे में. लेकिन जैसा की अभी हमने में ऊपर होस्टिंग के सभी types के बारे में जाना और जाना की यदि आपने एक नए ब्लॉग की शुरुआत की है तो शुरुआत में ट्रैफिक कम होगा तो आप shared होस्टिंग के साथ शुरुआत कर सकते हैं.शेयर्ड होस्टिंग सस्ती भी पड़ती है और जैसे-जैसे आपका ट्रैफिक बढ़ेगा आप अपने होस्टिंग प्लान को अपग्रेड कर सकते हैं.

तो दोस्तों उम्मीद है की अब आपको वेब होस्टिंग से जुड़ी पूरी जानकारी मिल चुकी होगी, और अब आप जान गये होगे की वेब होस्टिंग क्या है? (What Is Web Hosting In Hindi) Web Server क्या होता है? उपयोग, फ़ायदे, प्रकार क्या है? क्यू ज़रूरी है? कैसे काम करता है? कैसे ख़रीदे? & All About Web Hosting In Hindi?

Best वेब होस्टिंग कंपनी

  1. Bluehost
  2. Hostgator
  3. Godaddy

ये तीन कंपनियां भारत में पॉपुलर एवं बेस्ट है आप इनमें से कोई सा भी कंपनी का Hosting plan ले सकते हैं, लेकिन जैसे कि मैंने ऊपर बताया होस्टिंग किसी भी कंपनी से लीजिए लेकिन share hosting का प्लान ना लेकर VPS hosting plan ही लीजिए.

Bluehost india

Blogging के क्षेत्र में ज्यादातर blogger WordPress पे blog बनाते हैं और वर्डप्रेस ने ऑफीशियली रूप से ब्लूहोस्ट का सुझाव दिया है.

तो आप खुद सोच सकते हैं कि जिस होस्टिंग कंपनी को खुद वर्डप्रेस ने सुझाव दिया है उसको लेने में आपको किसी भी तरह का कोई दिक्कत नहीं हो सकता है.Bluehost India के लिए बेस्ट होस्टिंग कंपनी है अगर आप शुरुआती blogging करने जा रहे हैं तो आप इसका शेयर shared hosting plan ले सकते हैं और आपको ऐसा लगता है कि जल्दी ही ब्लॉगिंग में आगे बढ़ेंगे तो फिर इसका VPS hosting plan ले सकते हैं.

साथ ही ये भी ध्यान रखने वाली बात है कि आप Bluehost India से hosting खरीदें क्योंकि ये bluehost US 10 गुना ज्यादा स्पीड रहेगी क्योंकि आप इंडिया में रहते हैं.

और अगर आप इंग्लिश में ब्लॉगिंग करते हैं और आपका ट्रैफिक का टारगेट इंडिया के अलावा भी अन्य देशों से है तो आप Bluehost India के बजाय bluehost US ले सकते हैं.

Hostgator India

Hostgator भी top web hosting company के list मे आता है. यहां पर आपको अनलिमिटेड बैंडविथ एवं अनलिमिटेड ईमेल मिलता है.अगर आप hostgator का hosting plan लेते हैं एवं आपको यह प्लान अच्छा नहीं लगता है तो आप 45 दिन के अंदर वापस भी कर सकते हैं आपको होस्टगेटर मनी बैक की गारंटी देता है.

Hostgator plan के साथ आपको कस्टमर केयर सपोर्ट भी 24 घंटे का मदद मिलता है.लेकिन रात के टाइम में ऑनलाइन चैट हेल्प के लिए आपको 5 से 10 मिनट तक का वेट करना पड़ता है.

जैसा कि मैंने आपको ऊपर bluehost India vs Bluehost US के बारे में बताया वही स्थिति यहां भी है यह आपके ब्लॉगिंग का लैंग्वेज के ऊपर निर्भर करता है आप कौन से कंट्री को टारगेट करना चाहते हैं.अगर आप हिंदी में ब्लॉगिंग करते हैं और पोस्ट हिंदी में लिखते हैं तो आप hostgator in का प्लान ले सकते हैं. लेकिन मैं फिर भी आपको सजेस्ट यही करूंगा कि शेयर होस्टिंग के बजाय VPS होस्टिंग लेना समझदारी होगी.

Godaddy hosting plan

वैसे तो go daddy domain name के लिए पॉपुलर एवं विख्यात है लेकिन अब बहुत से लोग गोडैडी से ही डोमेन के साथ ही Godaddy Hosting Plan भी खरीद रहे हैं.

Godaddy hosting plan मे आपको स्टार्टर प्लान इकोनामी प्लान डीलक्स और अनलिमिटेड प्लान मिलेंगे अब आपको यहां पर अपनी जरूरत के हिसाब से प्लान सिलेक्ट करना होगा.मुझे पूरा उम्मीद है कि इस पोस्ट का मुख्य सवाल Web Hosting Kya Hai एवं kaha se kharide और साथ ही Linux vs windows web hosting in Hindi का जवाब आपको मिल चुका है.

Conclusion

दोस्तों आज के इस Post पर मैंने आपको बताया है की Web Hosting Kya Hai 2021 तो अगर आपके मन में इससे जुड़े कोई भी Web Hosting Kya Hai सवाल है तो आप निचे Comment में पुच सखते हो, में उसका जबाब देने की पूरी कोशिस करूँगा. और भी नए नए जानकारी जानने के लिए हमारे Blog को Visit कर सखते हो.

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here