ISRO Full Form | ISRO Kya Hai पूरी जानकारी हिंदी मे 2021

0
50
ISRO Full Form
ISRO Full Form

ISRO Full Form | ISRO Kya Hai पूरी जानकारी हिंदी मे 2021 : दोस्तों जब India द्वारा अन्तरिक्ष में कोई Program Launch किया जाता है तो अक्सर बहुत सारे लोगों को TV और अख़बारों के द्वार ISRO के बारे में पता चलता है क्योंकि TV और अखबारों में ISRO के बारे में बहुत ज्यादा खबरें देखने को मिलता है.

इसलिए बहुत सारे लोग यह जानने के लिए की ISRO Full Form और ISRO Kya Hai क्या है Internet का इस्तेमाल करते हैं ताकि वह इसके बारे में समझ सकें.यदि आप एक विद्यार्थी है औऱ किसी Government Job की तैयारी कर रहें है जैसे SSC तो आपके लिए ISRO Kya Hai और ISRO की ISRO Full Form यह जानना बेहद Important हो जाता है.

अक़्सर Exam में अन्तरिक्ष से ज़ुड़े बहुत सारे सवालों के बारे में पहुँचा जाता है और ख़ासकर करंट अफेयर्स में आपको इस तरह के क्वेश्चन देखने को मिल जाते है.इसलिए दोस्तों आज हम आपको ISRO Full Form और ISRO Kya hai के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं तो यदि आप पूरी Information के साथ जानना चाहते है तो इस Article को शुरू से लास्ट तक अच्छे से पढ़े.

ISRO Full Form 

ISRO Full Form
ISRO Full Form

दोस्तों सबसे आपके लिए यह जानना बहुत ज़रूरी है कि ISRO का पूरा नाम क्या हैं अगर बात करें English में ISRO Full Form :- Indian Space Research Organisation है और जिसे Hindi भाषा मे “भारतीय अन्तरिक्ष अनुसंधान संगठन” कहा जाता है. 

ISRO World की Top 5 सबसे बड़ी अंतरिक्ष एजेंसियों में से एक हैं और अब तक ISRO अंतरिक्ष मे 370 उपग्रह भेज चुका हैं जिसमे से 101 India के लिए और 269 विदेशों के लिए उपग्रह भेज चुका है.हाल ही में चन्द्रयान-2 की सफलता के बाद अब India द्वारा अंतरिक्ष मे 371 उपग्रह भेजे जा चुके हैं औऱ मून मिशन के बाद अब इसरो की अगली तैयारी सूरज Mission एल1 को अंजाम देने की है.

ISRO Kya Hai 2021

दोस्तों ISRO India की स्पेस एजेंसी एवं राष्ट्रीय अंतरिक्ष संस्थान है जिसका काम भारत के लिए अंतरिक्ष से सम्बंधित सभी प्रकार की तकनीक Available करवाना और Develop करना है.ISRO की Build सन 1969 में वैज्ञानिक विक्रम अंबालाल साराभाई के प्रयासों के द्वारा हुई थीं इसलिए इन्हें इसरो का जनक भी कहा जाता है. इसरो का मुख्यालय बेंगलुरु में हैं और इसरो अंतरिक्ष विभाग भारतीय Government के अधीन काम करता है औऱ सीधे प्रधानमंत्री को Report करता है.

ISRO World की Top 5 स्पेस एजेंसी में से एक है औऱ इसरो World की एक मात्र ऐसी स्पेस एजेंसी है जो Mars पर जाने की पहली कोशिश में Success प्राप्त कर चुका हैं जबकि और कोई देश या स्पेस एजेंसी अभी तक ऐसे नही कर पाई है.हम आपको बता दे कि ISRO World की एक ऐसी स्पेस एजेंसी भी है जो दूसरे देशों के मुक़ाबले सबसे कम ख़र्चे में स्पेस Program Launch करती है इसका अनुमान ऐसे लगाया जा सकता हैं.

हाल ही में India द्वारा launch किये गये चन्द्रयान-2 पर 978 करोड़ रुपये ख़र्च हुए हैं जोकि कई हॉलीवुड Flim के Budget से भी कम है जैसे चर्चित हॉलीवुड फिल्म एवेंजर्स एन्डगेम का बजट 2443 करोड़ रुपये था जबकी इतने Budget में India दो चन्द्रयान भेज सकता है. 

India का पहला उपग्रह 19 अप्रैल 1975 को Launched किया गया था जिसका नाम गणितिज्ञ्य आर्यभट्ट के नाम पर रखा गया था औऱ फिर 7 जून 1979 में भारत द्वारा दूसरा उपग्रह Launched किया गया जो 445 किलो का था जिसे पृथ्वी के कक्ष में स्थापित किया गया जिसका नाम भास्कर रखा गया. 

Indian स्पेस एजेंसी ISRO द्वारा अंतरिक्ष मे अब तक 370 उपग्रह भेजे जा चुके हैं जिसमे से 101 India के लिए और 269 विदेशों के लिए उपग्रह भेज चुका है तो चलिए ISRO की महत्वपूर्ण उपलब्धियो के बारे में जानते है. 

ISRO की महत्वपूर्ण उपलब्धियां

ISRO Full Form
ISRO Full Form
  • दोस्तों 21 November 1963 में थुम्बा से पहले Rocket का परीक्षण किया गया. 
  • 1972 में अंतरिक्ष विभाग की स्थापना की गई. 
  • 19 April 1975 में भारत का पहेला उपग्रह Launched किया गया जिसका नाम आर्यभट रखा गया. 
  • 7 June 1979 में India का दूसरा उपग्रह Launched किया गया जिसका नाम भास्कर रखा गया. 
  • 1981 एप्पल नाम के भूवैज्ञानिक संचार उपग्रह को Launched किया गया. 
  • 1982 में इन्सैट-1A को अप्रैल में Launched किया गया और सितंबर में अक्रियकरण किया गया. 
  • 1984 में राकेश शर्मा पहला Indian अंतरिक्ष यात्री बना. 
  • 1988 में India का पहला IRS-1A दूर संवेदी उपग्रह Launched किया गया. 
  • 1992 में पूरी तरह स्वदेशी तकनीक की मद्त से India ने इन्सैट-2A उपग्रह को सफलतापूर्वक Launched किया. 
  • 1999 में पहली बार किसी दूसरे देश के उपग्रह को भारत से Launched किया गया. 
  • 22 October 2008 को चन्द्रयान को सफलतापूर्वक Launched किया गया. 
  • 5 November 2013 को मंगलयान को सफलतापूर्वक Launched किया गया और पहली ही बार मे मंगलयान को सफलतापूर्वक Launched करने वाला India पहले देश बन गया. 
  • 14 July 2019 को चन्द्रयान-2 को सफलतापूर्वक Launched किया गया और दूसरे देशों के मुक़ाबले सबसे कम ख़र्चे में चन्द्रयान-2 Launched किया गया. 

ISRO केंद्रों की जानकारी

दोस्तों Indian स्पेस एजेंसी इसरो के देश भर में कई केंद्र है और अन्य कई एजेंसी और प्रयोगशालाएँ मौजूद हैं हम आपको नीचे एक फ़ोटो प्रदान करने वाले है जिसमें सभी ISRO Centres की Information दी गयी है. 

FAQ ( Frequency Asked Questions)

ISRO Full Form
ISRO Full Form

चन्द्रयान-1 को कब Launched किया गया? 

22 October 2008

चन्द्रयान-2 को कब Launched किया गया? 

14 July 2019 को चन्द्रयान-2 को सफलतापूर्वक Launched किया गया. 

ISRO Chairman कौन है? 

Kailasavadivoo Sivan

ISRO का पूरा नाम क्या है?

Indian Space Research Organisation

ISRO की स्थापना कब की गई? 

15 August 1969

भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम का जनक किसे कहते है? 

विक्रम अंबालाल साराभाई. 

भारत मे अंतरिक्ष कार्यक्रम का आरम्भ कहां से हुआ? 

तिरुवनंतपुरम के निकट थुम्बाभूमध्यरेखीयराकेट प्रमोचन केंद्र (टर्ल्स) में हुआ. 

भारतीय पहला स्वदेशी रॉकेट कब बना? 

20 November 1967 में आरएच-75

भारत का पहला उपग्रह कौन सा था? 

आर्यभट्ट

तो दोस्तों ISRO Indian स्पेस एजेंसी है और यह अंतरिक्ष कार्यक्रमों में बहुत बेहतरीन काम कर रही हैं इसलिए ही यह World की Top अंतरिक्ष एजेंसी में से एक है.इसरों का बाकी देशों की तुलना में बहुत कम Budget होता है जो केंद्र सरकार के कुछ खर्चो का 0.34% औऱ GDP का 0.08% है और यदि इसरो की तुलना पाकिस्तान की Space एजेंसी से की जाये तो पाकिस्तान India के आसपास भी नही दिखाई देता है.

जबकि पाकिस्तान स्पेस एजेंसी जिसका नाम SUPARCO है जिसकी स्थापना 1961 में की गई थी और ISRO 1969 में बनाई गई थीं फ़िर भी पाकिस्तानी स्पेस एजेंसी केवल 2-3 सैटेलाइट्स वह भी दूसरे देशों की मद्त से Launch कर सका है. 

दोस्तों जबकि आज भारतीय स्पेस एजेंसी ISRO दूसरे देशों के लिए भी सैटेलाइट्स अंतरिक्ष मे भेजता है. इस बात से आप अनुमान लगा सकते है कि India अंतरिक्ष कार्यक्रमों मे कितनी तेजी से आगे बढ़ रहा हैं औऱ हमें उमीद है कि India एक दिन पहला स्थान भी प्राप्त कर लेगा. 

Conclusion

दोस्तों आज के इस Post पर मैंने आपको बताया है की (ISRO Full Form | ISRO Kya Hai पूरी जानकारी हिंदी मे 2021) तो अगर आपके मन में इससे जुड़े कोई भी (ISRO Full Form) सवाल है तो आप निचे Comment में पुच सखते हो, में उसका जबाब देने की पूरी कोशिस करूँगा. और भी नए नए जानकारी जानने के लिए हमारे Blog को Visit कर सखते हो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here