गूगल का आविष्कार किसने किया था ओर कब हुआ ?

0
122
गूगल का आविष्कार किसने किया था
गूगल का आविष्कार किसने किया था

गूगल का आविष्कार किसने किया था ओर कब हुआ ? : आजकल Google कंपनी ने इस कदर ऊंचाइयों को छू रखा है जिसकी पहचान का कोई मोहताज नहीं है। गूगल कहीं ना कहीं आज हमारे दैनिक जीवन का हिस्सा है और इसके ना रहने पर हमें विभिन्न प्रकार की ऐसी समस्याओं का सामना भी करना पड़ सकता है जिसकी हमने कल्पना भी नहीं की।

विद्यार्थियों के लिए शिक्षा के क्षेत्र में मदद करने के अलावा यह नौकरी, व्यवसाय, उद्योग धंधे, बैंकिंग, रेलवे, स्पेस आदि विभाग में अत्यंत उपयोगी साबित होता है। आज हम Google का अविष्कार किसने किया ओर कब हुआ ओर Google से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण जानकारियों के साथ-साथ रोचक तथ्यों के बारे में भी बताने वाले हैं, जिसके बारे में जानकारी प्राप्त करना आपके लिए वाकई में बेहद उपयोगी होगी।

Google क्या है – What is Google in Hindi

गूगल अमेरिका की एक बहुराष्ट्रीय सार्वजनिक कंपनी है। इसकी विशेषता यह है कि इसने क्लाउड कंप्यूटिंग के साथ-साथ इंटरनेट सर्च और विज्ञापन तंत्र में काफी पूंजी लगाई है। गूगल की कमाई इस पर आने वाले विभिन्न तरह के उत्पादों से जुड़े विज्ञापन से होती है।

गूगल का आविष्कार किसने किया था?

गूगल का आविष्कार किसने किया था
गूगल का आविष्कार किसने किया था

Sergey Brin और Larry Page नामक दो महान वैज्ञानिकों ने गूगल का आविष्कार किया था। आज हम गूगल को जिस रूप में देख रहे हैं, उसे ऐसा रूप देने के पीछे कई महान बुद्धिजीवियों और महान वैज्ञानिकों का योगदान रहा है।

गूगल की शुरुआत एक ऐप से नहीं बल्कि एक दो छात्रों के द्वारा एक यूनिवर्सिटी प्रोजेक्ट के रूप में हुई थी। जिस समय सर्गी ब्रिन और लैरी पेज ने Google का आविष्कार किया था, तब गूगल का नाम googol था। उस समय इस प्रोजेक्ट के तीसरे संस्थापक स्कॉट हसन थे। गूगल का अधिकतर कोड इन्हीं के द्वारा टाइप किया गया था। लेकिन जब तक कि वह लोग मिलकर गूगल को एक कंपनी की तरह शुरू करते तब तक उन्होंने प्रोजेक्ट को अधूरा ही छोड़ दिया और चले गये।

रोबोटिक्स में अपने करियर की शुरुआत करने के लिए और अपना नाम बनाने के लिए स्कॉट ने इस प्रोजेक्ट को छोड़ दिया था। यही कारण है कि गूगल के इनका बहुत बड़ा योगदान रहा है फिर भी इनका नाम गूगल के फाउंडर से नहीं लिया जाता है।

गूगल का आविष्कार कब हुआ था?

गूगल का आविष्कार किसने किया था
गूगल का आविष्कार किसने किया था

Larry Page or Sergey Brin कैलिफोर्निया में काफी लंबे वक्त से गूगल के आविष्कार के पीछे काम कर रहे थे। 4 सितंबर 1998 में गूगल को एक कंपनी के रूप में मान्यता मिली। इसीलिए हम ऐसा कर सकते हैं कि गूगल का आविष्कार 4 सितंबर 1998 को हुआ।

जब हमें किसी भी वेब पेज को ढूंढने के लिए वेबसाइट पर जाना पड़ता था तो उस समय गूगल का आविष्कार हुआ था। गूगल पहले आपकी तरह कोई सर्च इंजन नहीं था बल्कि एक साधारण सा प्रोजेक्ट का हिस्सा था। किसी भी विषय से जुड़ी वेबसाइट और लिंग को एनालाइज कर गूगल रैंक करता था। या फिर हम इसे ऐसा कह सकते हैं कि जिस वेबसाइट पर ज्यादा सर्च किया जाता था उससे ज्यादा रैंक मिलता था। इस आधुनिक तरीके का सुझाव लैरी पेज के द्वारा दिया गया था।

Google के क्या उपयोग है?

विद्यार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में गूगल से काफी मदद मिलती है। किसी भी विषय को बेहतर तरीके से समझने के लिए अथवा किसी विषय को विस्तृत रूप देने के लिए भी यह विद्यार्थियों के लिए उपयोगी होता है। रेलवे एवं स्पेस से संबंधित जानकारियों को उपलब्ध कराने में गूगल काफी मददगार होता है। गूगल की मदद से आज हम दैनिक जीवन में कई प्रकार के समस्याओं का समाधान कर सकते हैं चाहे वह व्यापार वाणिज्य के क्षेत्र में हो अथवा विज्ञान की विस्तृत जानकारी उपलब्ध करने में।आने वाले भविष्य में गूगल विशेष रुप से मददगार साबित होगा, क्योंकि इसकीनिरंतरता के बदौलत देश की आर्थिक स्थिति में भी सुधार लाया जा सकता है।

Google से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

गूगल का आविष्कार किसने किया था
गूगल का आविष्कार किसने किया था

Google की शुरुआत 1998 में हुई थी, जिसके बाद यह आम लोगों के दैनिक जीवन का हिस्सा बन गया और आज उसने इतना व्यापक रूप ले लिया है कि हम इसके बिना अपनी किसी भी काम को पूरा नहीं कर सकते चाहे वह शिक्षा से जुड़ा हुआ था हमारे काम के क्षेत्र से। गूगल से जुड़े कई ऐसे रोचक तथ्य हैं जिससे आज भी लोग अनजान है। इसमें हम आपको गूगल से जुड़े ऐसे ही कुछ रोचक तथ्य बताने वाले हैं जो निम्नलिखित हैं-

  1. आपको यह जानकर बेहद आश्चर्य होगा कि गूगल केवल 1 सेकंड में ही ₹1,30,900 की कमाई करता है।
  1. आंकड़ों के मुताबिक देखा गया है कि 2010 के बाद से गूगल ने प्रति सप्ताह कम से कम एक कंपनी खरीदता है।
  1. ईमेल सर्विस भेजने की शुरुआत गूगल ने अप्रैल 2004 में ही किया। इसमें काफी जल्दी ईमेल भेजने और प्राप्त करने की विशिष्ट गुण के कारण ही यह आम लोगों के बीच काफी और जल्दी ही लोकप्रिय हो गया।
  1. यदि आप गूगल पर askew सर्च करते हैं तो आप देखेंगे कि गूगल हल्का सा टेढ़ा हो जाता है अथवा नीचे की ओर झुक जाता है।
  1. गूगल का सर्च इंजन 100 मिलियन गीगाबाइट होने के कारण यह अपने अंदर विशाल मात्रा में स्टोरेज रखता है।
  1. गूगल द्वारा जो पहले ट्वीट की गई थी वह बायनरी भाषा में थी। यह एक ऐसी भाषा है जिसमें केवल 0 और 1 का प्रयोग किया जाता है।

निष्कर्ष

तो दोस्तों इस पोस्ट में हमने Google से संबंधित कुछ विशेष सवालों जैसे Google kya hai?, Google ka Malik kaun hai?, गूगल का आविष्कार किसने किया था ओर कब हुआ ? आदि के बारे में विशेष जानकारी दी है। इसके अतिरिक्त गूगल से जुड़े कुछ रहस्यमई तथ्यों को भी इस लेख में प्रस्तुत किया है, जिससे आप गूगल के सामर्थ्य का अंदाजा आसानी से लगा सकते हैं।

Google क्या है? विषय से संबंधित इस लेख के माध्यम से आपको सभी प्रकार के प्रश्नों के हल और जानकारियां मिल गए होंगे। हम आशा करते हैं कि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी और यदि आपने इससे कुछ विशेष जानकारियों को प्राप्त किया है तो इसे सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों और अन्य लोगों तक अवश्य शेयर करें ताकि Google से संबंधित इन जानकारियों से वे भी अवगत हो सकें। यदि अभी भी इस पोस्ट अथवा विषय से जुड़े कोई प्रश्न हो तो हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके अवश्य बताएं। हम आपके प्रश्नों का उत्तर अवश्य देंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here