GDP Full Form In Hindi | GDP Kya Hai पूरी जानकारी हिंदी में 2021

1
155
GDP Full Form In Hindi 2021
GDP Full Form In Hindi 2021

GDP Full Form In Hindi | GDP Kya Hai पूरी जानकारी हिंदी में 2021 : दोस्तों GDP Word आपको कई जगहों पर सुनने के लिए मिलता है जैसे न्यूज़ चैनलों और अखबारों में परन्तु यह Question आता है कि ये GDP Full Form In Hindi और GDP Kya Hai और साथ ही इसका उपियोग क्यो और कैसे किया जाता है? 

GDP किसी भी Country की अर्थव्यवस्था को मापने का एक पैमाना हैं जिसे यह अनुमान लगा जाता हैं कि किसी Country मे विकास किसी गति से हो रहा हैं इसलिए किसी भी Country की GDP का अच्छा होना उस Country की मजबूत अर्थव्यवस्था को दर्शाता हैं. 

दोस्तों जब Indian मे हर तीन महीने बाद GDP की गणना की जाती हैं तो News Channel पर बहुत Debet की जाती हैं क्योंकि GDP किसी भी Country की तरक़्क़ी किस दर से हो रही हैं जिसका अनुमान बताती हैं जिसे आम आदमी Easily समझ नही पता कि आखिर GDP किसे कहते हैं. 

आज के इस Article में हम यह जानेंगे कि GDP Full Form In Hindi और GDP Kya Hai और जीडीपी कितने प्रकार की होती है साथ ही GDP को कैसे मापा जाता है इत्यादि तो अगर आप GDP के बारे में विस्तार से और कम्पलीट Knowledge प्राप्त करना चाहते है तो आप लोग इस Article को एक बार पूरा जरूर पढ़ें. 

GDP Full Form In Hindi

GDP Full Form In Hindi 2021
GDP Full Form In Hindi 2021

दोस्तों GDP Full Form Hindi है :- Gross Domestic Product हैं जिसे हिंदी Language मे सकल घरेलू उत्पाद के नाम से जाना जाता है औऱ भारत मे हर तीन महीने बाद GDP की गणना की जाती हैं जिसे Country की तरक़्क़ी का विश्लेषण किया जाता है. 

GDP की शरुवात कैसे औऱ कब हुई

दोस्तों 1930 के दशक में द्वितीय विश्वयुद्ध खत्म हो चुका था और पूरी World आर्थिक मंदी से जूझ रही थी और लगभग 10 Years के बाद पूरी दुनिया इस आर्थिक मंदी से बाहर निकल सकी उसके पश्चात देश के आर्थिक विकास का पता लगाने के लिए ऐसे तरीके के बारे में खोज Start हुई जिसे देश के आर्थिक विकास का पता लगा जा सकें. 

चूँकि उस Time Country की आर्थिक विकास दर के मापने के कोई तरीक़ा नहीं था इसलिए उस समय Country की Banking कंपनिया आगे आयी जिसमें Financial इंस्टिट्यूडस और Bank शामिल थे उन्होंने देश को भरोसा दिलाया कि वह देश के आर्थिक विकास का हिसाब रखेगी और उसे Country के सामने पेश करेगी. 

दोस्तों इस तरह Country के आर्थिक विकास मापने का काम Bank के हाथों में सोप दिया गया लेक़िन देश के आर्थिक विकास के मापन का कोई स्थायी तरीक़ा नहीं होने के कारण यह व्यवस्था भी देश के Financial Development का सही आंकलन नहीं कर पाई और इस व्यवस्था में कई खामियां थी.उसके बाद, सन 1935-44 के दौरान America में सबसे पहले इस शब्द GDP का उपयोग किया गया जिसे अमेरिका के अर्थशात्री साइमन ने अपने देश America से रूबरू कराया जिसको अमेरिकी कांग्रेस में प्रस्तुत किया गया औऱ पहली बार GDP का विचार पेेश किया. 

1944 में Britten बुड्स सम्मेलन के बाद विश्व Bank और अंतराष्ट्रीय मुद्रा कोष के द्वारा अर्थव्यवस्था और इसकी सालाना बढ़ोतरी का पता लगाने के लिए GDP इस्तेमाल किया जाने लगा जिसके बाद यह काफ़ी विख्यात हुए और इस तरह फिऱ देश के Financial Development को मापने का पैमान GDP बन गया. 

GDP Kya Hai

GDP किसी भी Country के Financial Development का आंकलन करने का एक जरिया हैं जिसे किसी देश की Financial Development दर औऱ तरक़्क़ी की रफ़्तार का पता लगाया जाता हैं यह एक बुनियादी तरीका है जिसे Country के Financial Development को माप जाता है मतलब अगर GDP बढ़ रही है तो इसका मतलब है कि देश का Financial Development भी बढ़ रहा है. 

दोस्तों Wikipedia के अनुसार GDP या सकल घरेलू उत्पाद अर्थव्यवस्था के आर्थिक प्रदर्शन का एक बुनियादी माप हैं जिसमें एक Year में एक राष्ट्र की सीमा के भीतर सभी अंतिम माल और सेवाओं का Market मूल्य होता है.आसान शब्दों में एक Year के अंदर एक Country मे उसकी सीमा के अंदर जितनी वस्तुओं या सेवाओं का उत्पादन किया जाता हैं उसका कुल मूल्य ही GDP या सकल घरेलू उत्पादन कहलाता है हम आपको एक उदाहरण के तौर पर समझाते हैं. 

दोस्तों मान लीजिए 2019 में हमारे Country में कुल मिलाकर 10 बोरी चावल का उत्पादन हुआ और एक बोरी चावल की कीमत 200 रुपये है तो 2019 में हमारे देश की GDP 10×200= 2000 होगी.अब आप लोग यह कहेंगे कि यह भी तो हो सकता है कि इन 10 बोरी चावलों में से 5 बोरी सरकार उगाये, 3 बोरी कोई Private Companies उगाये और 2 बोरी कोई विदेशी Company उगाये और तो ऐसे में हम किसको-किसको जोड़े और किसको छोड़ दे. 

तो हमे इस बात से कोई मतलब नहीं है कि उत्पादन कौन कर रहा है हमने जैसे कि पहले ही कहा जो भी हमारे Indian देश के सीमा के अंदर बना है या फिर उत्पादित हुआ है चाहे वो गवर्नमेंट ने किया, चाहे प्राइवेट Company ने या फिर किसी विदेशी Company ने उसका कुुल मूल्य हमारे देश की GDP कहलाता है. 

यह तो हुआ GDP को समझने का एक बहुत ही Simple तरीका लेकिन हमारे देश मे Only यह दस बोरी चावल ही नही उत्पादित हो रहा है बल्कि ऐसी अनगिनत चीजे है जो हमारे देश में बन रही है और जैसा कि हमने पहले ही बताया चीजो के अलावा सेवा क्षेत्रों को भी हमे जोड़ना है तो इतना Complex हिसाब करना कैसे संभव है इसी समस्या का समाधान ढूंढते हुए हमारे अर्थशास्त्रियों ने 3 क्षेत्र बनाये है. 

GDP के तीन प्रमुख घटक

GDP Full Form In Hindi 2021
GDP Full Form In Hindi 2021
  1. प्राथमिक घटक : दोस्तों इसके अंदर कृषि क्षेत्र से जुड़ी हुई चीजों का मूल्य निकाला जाता है. 
  2. द्वितीयक घटक : और इसके अंदर उद्योग क्षेत्र से जुड़ी हुई चीजों का मूल्य निकाला जाता है. 
  3. तृतीयक घटक : और इसके अंदर सेवा क्षेत्र से जुड़ी हुई चीजों का मूल्य निकाला जाता है. 

अब अंत मे इन तीनो घटकों के मूल्यों को जोड़ दिया जाता हैं और इन तीनों का मूल्य GDP कहलाता हैं लेकिन मंहगाई घटी-बढ़ती रहती हैं इसलिए वस्तओं और सेवाओं के मूल्य में भी बदलाव आते हैं इसीलिए GDP को 2 भागो में बांट गया है. 

Constant Price GDP : क्योंकि Time के साथ-साथ मंहगाई घटी-बढ़ती रहती हैं इसलिए CSO(Central Statistics Office) यानी केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय द्वारा India मे उत्पादन व सेवा के मूल्यांकन के लिए एक बेस Year निर्धारित करता है जिसके आधार पर उत्पादन व सेवाओं की वृद्धि दर तय की जाती है जिसे Constant Prize GDP कहा जाता है. 

Current Price GDP : यह GDP दूसरा पैमाना है जिसमें जीडीपी के उत्पादन मूल्य के साथ उस Year की महंगाई दर को भी शामिल किया जाता है जिसे Current Prize GDP कहा जाता है. 

GDP FORMULA Kya Hai औऱ कैसे मापी जाती है? 

GDP को मापने के लिए एक Formula बनाया गया जिसके उपियोग से आप आसानी से देश का Financial Development का पता लगा सकते हैं जो इस प्रकार है. 

GDP = C + I + G+ (X – M)

C: Consumption

दोस्तों यहाँ C का मतलब है Consumption जिसे Hindi में उपभोग कहते हैं यानी कि Country के लोगों के व्यक्तिगत घरेलू व्यय जैसे भोजन, किराया, चिकित्सा व्यय और इस तरह के घरेलू व्यय को इसके अंदर शामिल किया जाता है परंतु नया घर इसमें शामिल नहीं हैं. 

I: Investment

यहाँ I का मतलब हैं Investment जिसे Hindi में कुल निवेश कहते है देश के घरेलू सीमाओं के अंदर माल और सेवाओं पर सभी संस्थानों द्वारा किये गए कुल खर्च को ही कुल निवेश कहा जाता है. 

G: Government Spending

दोस्तों यहाँ G का मतलब हैं Government Spending जिसे Hindi में Government खर्च कहते है जिसमें सरकार द्वारा किये गए सभी प्रकार के खर्च शामिल होते है जैसे – Government द्वारा किया गया निवेश, सभी प्रकार के Government कर्मचारियों का वेतन, हथियार वगेरा खरीदना इत्यादि. 

X: Export

यहाँ X का मतलब हैं Export जिसे हिंदी में निर्यात कहते है इसमें Country मे उत्पादन को किसी दूसरे देश के उपभोग के लिए माल और सेवाओं Ready किया जाता हैं जिसे GDP में शामिल किया जाता है. 

M: Import

यहाँ M का मतलब हैं Import जिसे Hindi में आयात कहते है आयात से हम उन वस्तुओं और सेवाओं को ऱखते है जिसका उत्पादन हमारे Country की सीमारेखा के अंदर नहीं किया गया है औऱ GDP निकालते समय हम आयात को घटा देते है. 

GDP Formula और Calculate Formula

GDP Full Form In Hindi 2021
GDP Full Form In Hindi 2021

GDP=Consumption+Investment +Government Spending+{Export-Import}

GDP कितने प्रकार की होते है?

1.वास्तविक GDP

दोस्तों वास्तविक GDP में एक आधार Year में कीमतों के मूल्य फिक्स रखकर GDP की गणना की जाती हैं. इस GDP में मूल्य में कोई बदलाव नही किया जाता. वास्तविक सकल घरेलू उत्पाद को स्थिर मूल्य पर सकल घरेलू उत्पाद की गणना के रूप में भी जाना जाता है हम आपको बता दे कि वर्तमान में India का आधारवर्ष 2011-12 है लेकिन CSO (केंद्रीय सांख्यिकी संगठन) इस आधारवर्ष को बदलकर 2017-18 करने पर विचार कर रहा है. 

2.नाममात्र GDP

नाममात्र GDP वह GDP होती है जिसमे वर्तमान बाजार की कीमतों के आधार पर जीडीपी की गणना की जाती है ना कि केंद्रीय सांख्यिकी संगठन द्वार तय की गई निर्धारित कीमत के आधार पर अगर बात करे आर्थिक विकास की तो नाममात्र GDP की तुलना में वास्तविक जीडीपी देश के आर्थिक विकास को सही प्रदर्शित करती है. 

दुनियाका Top 5 GDP Countries की List

दोस्तों 2020 India की प्रगति का Year बना जब भारत ने UK और France को पछाड़कर सातवें पायदान से आगे बढ़कर पांचवा पायदान हासिल कर लिया है और यह भारतवासियों के लिए वाकई एक खुशी की बात है तो चलिए अब जानते है कि वह कौनसे देश है जिनकी GDP दुनिया मे सबसे ज्यादा हैं और Top पर कौन है. 

1. United States

America अर्थव्यवस्था 1981 से ही जीडीपी के मामले में दुनिया में पहले स्थान पर बनी हुई है औऱ World की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं जिसका अनुमान आप ऐसे लगा सकते है कि World की अर्थव्यवस्था में लगभग एक चौथी हिस्सा केवल American की GDP का है. 2018 में American की GDP 20.58 ट्रिलियन Dollars थी औऱ 2020 में अमेरिका की GDP 22.32 ट्रिलियन Dollars तक जाने का अनुमान लगाया जा रहा है. 

2. China

दोस्तों 1980 में China दुनिया की सातवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था थी लेकिन आज वर्तमान में चीन दुनिया की सबसे बड़ी दूसरी अर्थव्यवस्था हैं जो तेजी से आगे बढ़ रही है क्योंकि चीन World के अधिकतर देशों में निर्यात करता हैं 2018 के अनुसार चीन की GDP 13.37 ट्रिलियन Dollars थीं. 

3. Japan

Japan दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं जो 5 ट्रिलियन Dollars का आंकड़ा पार कर चुकी है जापान भी प्राकृतिक संसाधनों का धनी देश है इसकी जीडीपी में सेवा क्षेत्र का 70.9% उद्योग क्षेत्र का 29.7% और कृषि क्षेत्र का 1% योगदान है। 2019 में जापान की जीडीपी 5.15 ट्रिलियन Dollars थीं. 

4. Germany

Germany दुनिया की चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं और यूरोप भर में यह सबसी Powerful अर्थव्यवस्था है. Germany लोहा, स्टील, कोयला, मशनरी टूल्स, रसायन, ऑटोमोबाइल्स के उत्पादन में बहुत आगे है. 2019 के अनुसार इसकी GDP 3.86 ट्रिलियन Dollars थीं. 

5. India

India की अर्थव्यवस्था विश्व की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने भारत की GDP को 5 ट्रिलियन तक पंहुचाने की बात कही है कृषि, दुग्ध उत्पादन, पशुपालन India में प्रचुर मात्रा में होता है साथ ही यह कपड़ा, रसायन, इस्पात और खनन के सबसे बड़े उत्पादक देशों में से एक है भारत GDP के लिए 16.8% कृषि पर और 28.9 % उद्योग पर Depend है 2019 में India की GDP 2.94 ट्रिलियन Dollars थीं. 

GDP और GNP में क्या अंतर है?

दोस्तों जब GDP की बात करते है तो एक औऱ शब्द GNP सुने को मिलता है जिसे बहुत सारे लोगो GDP और GNP को लेकर Confuse हो जाते है. 

GDP सकल घरेलू उत्पाद होता है जबकी जीएनपी सकल राष्ट्रीय उत्पाद होता है. आसान शब्दो में कहे तो GDP को इस बात से कोई मतलब नही है कि उत्पादन कौन कर रहा है क्योंकि GDP तो बस यह देखता है कि उत्पादन Country की Limit के भीतर हो रहा है या नही लेकिन GNP यह सुनिश्चित करता है कि उत्पादन Country के नागरिको द्वारा ही हो. 

Conclusion

दोस्तों आज के इस Post पर मैंने आपको बताया है की (GDP Full Form In Hindi | GDP Kya Hai पूरी जानकारी हिंदी में 2021) तो अगर आपके मन में इससे जुड़े कोई भी (GDP Full Form In Hindi 2021) सवाल है तो आप निचे Comment में पुच सखते हो, में उसका जबाब देने की पूरी कोशिस करूँगा. और भी नए नए जानकारी जानने के लिए हमारे Blog को Visit कर सखते हो.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here