EMI Full Form in Hindi

0
116
EMI Full Form in Hindi
EMI Full Form in Hindi

EMI Full Form in Hindi : दोस्तों क्या आप ए सब चीजों के बारेमे जानना छाते है :- EMI Full Form in Hindi, EMI Ka Full Form Kya Hai, EMI का Full Form क्या है, EMI Ka Poora Naam Kya Hai, इमआई क्या है, EMI का पूरा नाम और हिंदी में क्या अर्थ होता है, ऐसे सभी Questions के Answers आपको इस Article में मिल जायेंगे.

EMI Full Form in Hindi

EMI Full Form in Hindi
EMI Full Form in Hindi

दोस्तों EMI की Full Form Equated Monthly Installment होती है. EMI को हिंदी भाषा में समान मासिक क़िस्त कहते है. EMI को अगर सरल शब्दों में कहा जाये तो यह एक प्रकार की मासिक क़िस्त होती है. जिसका प्रतिमाह भुगतान करना होता उस व्यक्ति को जो EMI पर किसी भी तरह का कोई Product खरीदता है .दोस्तों हम आशा करते है की आप EMI की फुल फॉर्म पढ़कर समझ गयें होंगे की EMI क्या होती है. तो चलिए अब इसके बारे अन्य सामान्य जानकारी के बारे में बात करते है.

EMI Full Form क्या है?

EMI का Full Form होता है Equated Monthly Installment. EMI बैंक या फिर किसी भी Financial Institutions से Loan के तौर पर ली गई Money की भरपाई करने के लिए बैंक आपको Loan के पैसों को किस्त में चुकाने की सुविधा देता है. इसके लिए बैंक की ओर से आपके लिए एक राशि तय कर दी जाती है और उस राशि को पूरा करने के लिए एक अवधि भी तय कर दी जाती है. आपको उसी अवधि में बैंक का सारा Loan जमा करना होता है.

EMI के तहत आपको बैंक को एक राशि देनी होती है जिसमें मूल धन और ब्याज दोनों ही होते हैं और इस राशि को दी गई समय सीमा में हीं देना होता है. अगर आपको दी गई समय सीमा के बीच ब्याज दर बढ़ जाती है तो आपकी समय सीमा भी बढ़ जाएगी. इसका मतलब होता है आपको ज्यादा EMI चुकाने के लिए ज्यादा समय मिल जाता है.

EMI की गणना कैसे करें

EMI की गणना तीन कारकों पर निर्भर करती है जो इस प्रकार हैं –

  • Interest Rate: साहूकार द्वारा लिए गए ब्याज की दर, जैसे कि – बैंक.
  • Loan Amount: उधार ली गई राशि.
  • Tenure of the Loan: ऋणदाता द्वारा ब्याज सहित संपूर्ण ऋण चुकाने का समय.

फ्लैट ब्याज दर

फ्लैट ब्याज दर के बारे में अगर बात की जाये तो हम आपको बताना चाहएंगे ब्याज की गणना पूरे मूल ऋण पर की जाती है, इस तथ्य पर विचार किए बिना कि प्रत्येक EMI के साथ मूल राशि कम हो रही है. उदाहरण के लिए, एक व्यक्ति एक कार खरीदना चाहता है और 3 लाख की कार पर ऋण लेता है, एक फ्लैट ब्याज दर 12% पर और इसे 3 साल में चुकाना होगा तब ईएमआई की गणना नीचे दी गई के रूप में की जा सकती है.

  • Principal Amount 300,000
  • Flat Rate of Interest: 12%
  • Total Duration: 3 Years

EMI

मूल राशि (300,000) को 36 महीनों से विभाजित किया जाता है + 12% मूल राशि को 12 महीनों से विभाजित किया जाता है = 8333 + 3000 = 11.333. ब्याज फ्लैट दर आमतौर पर कार ऋण और दोपहिया ऋण जैसे अल्पकालिक ऋण पर लागू होता है.

घटता शेष ब्याज दर

शेष ब्याज दर कम होने की स्थिति में, ब्याज राशि हर महीने बदलती है क्योंकि पहले महीने की ब्याज की गणना पूरे मूल ऋण पर की जाती है और बाद के महीनों के लिए ब्याज की गणना बकाया ऋण राशि पर की जाती है. कम ब्याज राशि की गणना करने का सूत्र या तरीका नीचे दिया गया है.

  • Principal Loan Amount = 300,000
  • Diminishing rate of Interest =12%
  • Duration: 3 Year
    पहले महीने के लिए ब्याज = Loan Amount (300, 000)*(1/12*)*(12/100) =3000
    दूसरे महीने के लिए ब्याज = (Outstanding Loan Amount)*(1/12)*(12/100)

ALL EMI Full Forms 

  • EMI – Electromagnetic Inference
  • EMI – Equated Monthly Installment
  • EMI – Electric and Musical Instrument
  • EMI – Electromagnetic Interference
  • EMI – Equal Monthly Installment
  • EMI – Equated Monthly Instalment
  • EMI – Electronic Money Institution

Conclusion

दोस्तों आज के इस Post पर मैंने आपको बताया है की (EMI Full Form in Hindi)  तो अगर आपके मन में इससे जुड़े कोई भी (EMI Full Form in Hindi)  सवाल है तो आप निचे Comment में पुच सखते हो, में उसका जबाब देने की पूरी कोशिस करूँगा. और भी नए नए जानकारी जानने के लिए हमारे Blog को Visit कर सखते हो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here